एक चुटकले का कमाल ग्राफ़ की जुबानी

4 comments:

बी एस पाबला said...

सब Ass Ass in Nation का कमाल है!

रंजन said...

क्या बात है.. आज एक ग्राफ् का कमाल देखते है..

Udan Tashtari said...

अबसे बस चुटकुले लिखा करो. शुभकामनाऐं. :)

Neeraj Rohilla said...

मोहिंदर जी,
कहीं आपकी टिपण्णी पढ़ी मटके के सन्दर्भ में, उसका जवाब लिखने की कोशिश कर रहा हूँ

असल में जब पानी में लवण ज्यादा हों तो जब पानी का वाष्पीकरण होता है लवण पीछे छूट जाते हैं| इससे बचने का उपाय है कि मटके को सूती कपडे की दो लेयर से ढकें और उस सूती कपडे को गीला रखें. अब वाष्पीकरण कपडे की सतह से होगा और कुछ दिनों में कपडे पर सफ़ेद रंग की लवण की परत सी दिखने लगेगी. जब भी ऐसा लगने लगे कपडे को धो कर लवण हटा दीजिये|

इससे आपके मटके की आयु बढ़ जायेगी, फूल प्रूफ़ तो फिर भी नहीं है| ट्राई करके बताइगा कि काम किया कि नहीं, :-)