क्या आप क्रिसमस से जुडे इन तथ्यों के बारे में जानते हैं




फ़ादर क्रिसमस को पत्र

फ़ादर क्रिसमस के दो पते हैं, ईडनबर्ग और नोर्थ पोल. जो पत्र "टोयलैंड" या "स्नोलैंड" के पते पर भेजे जाते हैं वह ईडनबर्ग पहुंचते हैं, परन्तु जो पत्र "द नोर्थ पोल" के पते पर भेजे जाते हैं वह वहीं पहुंचते हैं क्योकि सचमुच यह एक जगह का पता है.


सेन्टा क्लाज के रेन्डियर के नाम क्या क्या हैं

सेन्टा क्लाज के रेन्डियर को "डेशर, डान्सर, प्रेन्सर, विक्सन, कोमेट, क्यूपिड, डोनर/डोन्डर, बिल्ट्जन और रुडोल्फ़ के नामों से जाना जाता है.




व्हाईट क्रिसमस

इंगलेंड ने बीसवीं सदी में सिर्फ़ सात व्हाईट क्रिसमस देखी हैं... व्हाईट क्रिसमस का अर्थ है जब उस दिन वर्फ़ रूंई की तरह लन्डन वैदर सेन्टर की छत पर गिरती है

क्रिसमस फ़ूड

एक पुरानी कथा के अनुसार उस दिन बनाई गई डबलरोटी में कभी फ़फ़ूंदी नहीं लगती.
एक पारम्परिक क्रिसमस डिनर में रोस्टिड टर्की, रोस्टिड आलू, क्रेनवरी सोस, सोसेजेज बेकोन में लिपटी हुई, पुडिंग, डेसर्ट जैसी डिशे होती हैं.

क्रिसमस डे

440 AD तक २५ दिसम्बर क्राईस्ट के जन्म दिन के रूप में नहीं मनाया जाता था.
इंगलेंड की महारानी की पहली क्रिसमस स्पीच पहली बार 1957 में टेलीविजन पर प्रसारित हुई थी.
क्रिसमस क्रेकर की ईजाद थोम्स स्मिथ ने की थी.


क्रिसमस मनाने की मनाही"

सन 1647 में पूर्टियन लीडर ओलिवर क्रोमवेल के आदेश पर इंगलिश पार्लिआमेंट ने एक ला पास कर क्रिसमस मनाने की मनाही कर दी गई थी और जो इसका उलंघन करता उसे गिरफ़्तार कर लिया जाता था. सन 1660 में यह प्रतिबंध हटा जब पूर्टियन लीडर सत्ता से हटे.

क्रिसमस कार्ड

सन 1843 में पहला क्रिसमस कार्ड एक इंगलिशमेन सर हेनरी कोल जे सी होर्स्ले द्वारा डिजाईन किया गया था जिसकी 1000 कापियां बेची गई.

7 comments:

हेमंत said...

it is informative........

रंजना [रंजू भाटिया] said...

नही जी आपके इस लेख से बहुत कुछ जाना क्रिसमिस के बारे में ..रोचक जानकारी है

संगीता पुरी said...

बहुत जानकारी मिली आपके इस आलेख से...बहुत अच्‍छा...आपको क्रिसमस की बहुत बहुत बधाई।

महेंद्र मिश्रा said...

रोचक जानकारी है.

लावण्यम्` ~ अन्तर्मन्` said...

अच्छी जानकारी दी आपने -
हर त्योहार और सँस्कृति की अलग विधाओँ से रुबरु होना जरुरी है
- लावण्या

Amit said...

बहुत हे अच्छी जानकारी दे आपने....बहुत बहुत आभार

अशोक मधुप said...

बहुत अच्छी जानकारी।बधाई