आई लव यू

दिल की धडकन तुम हो
सांसों की सरगम तुम हो
मेरी हो तुम दिन और रैना
बोलो तुमको क्या है कहना

हे हे आई लव यू

प्रीत की डोरी बांधी तुम संग
रहना है अब हम को अंग संग
जब हंसेंगे मिलकर हम तुम
खिल जायेगा सारा गुलशन

हे हे आई लव यू

तुम प्यार में मेरी शशी
और इश्क में मेरी लैला
बारिश में मेरी छतरी
और धूप में हो अम्ब्रेला

हे हे आई लव यू

3 comments:

सुरेन्द्र सिंह " झंझट " said...

'he he i lov u '
pyar ka izhar bade saleeke se...
umda!

Suman said...

nice

शारदा अरोरा said...

खूबसूरत ,छतरी और अम्ब्रेला तो एक ही बात हुई , ऐसे ही सलाह दे रही हूँ , कि चाहें तो अम्ब्रेला को सिन्ड्रेला कर लें , सिन्ड्रेला वही जिसके पैर की एक जूती लिए राजकुमार उसे खोजने निकला था , यानि सिन्ड्रेला की जगह कोई दूसरा नहीं ले सकता ....गीत खूब मौजमस्ती वाला लगा ..