काश गधे समझदार होते




आप चाहे इस बात से सहमत हों न हों पर मैं इससे १०१ प्रतिशत सहमत हूं.
इज्जत और पैसा किस्मत से मिलता है और मेहनत करने वालों को तो दुल्लती ही मिलती है.
मेहनत का मतलब अधिक काम और अधिक काम का मतलब अधिक गलतियां होने की सम्भावना और आप सब तो जानते ही हैं कि एक गलती पिछली सारी मेहनत का असर भुलाने को मजबूर हो जाती है.
 
काश गधे मेहनती होने के साथ साथ समझदार, बेबाक और निधड्डक भी होते और सर से पानी ऊपर जाता देख दुल्लती झाडने के काबिल होते... फ़िर इस दुनिया का रंग कुछ और ही होता.

3 comments:

शिवकुमार ( शिवा) said...

बहुत सुंदर ... आपने बिलकुल सही कहा काश गधे समझदार होते ...

संगीता स्वरुप ( गीत ) said...

सटीक विश्लेषण ..

Anonymous said...

SAHI KAHATE HO BHAI,